Home » Breaking News » विद्यालय प्रधानाचार्या ने बच्चों की सुरक्षा हेतु प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से लगाया गुहार ।

विद्यालय प्रधानाचार्या ने बच्चों की सुरक्षा हेतु प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से लगाया गुहार ।


समस्तीपुर 9 जुलाई 2019 !

रिपोर्ट आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता !

बद से बदतर है विद्यालय की स्थिति बच्चों को पढ़ने में होती है काफी कठिनाइयां।

शिवाजीनगर प्रखंड के दहियार रण्ना पंचायत में स्थित प्राथमिक विद्यालय गरीबसतपुर जो वर्षो से स्थापित है जहां हजारों बच्चें शिक्षा प्राप्त कर अपना जीवन यापन करने में लगे हुये है लेकिन आज उस विद्यालय को अपने पुराने बिल्डिंग पर तरस आ रहा है !

जहां 150 के लगभग नामांकित बच्चे बच्चियाँ है जिस विद्यालय में पुरानी दो कमरें हैं जो पुर्न रुप से जरजर एबं खण्डहर में तब्दील है जहां हमेशा सांपों और बिच्छूओं का निकलना लगा रहता हैं. लेकिन फिर भी छात्र यहां जान जोखिम में डाल कर पढ़ रहे हैं !

समस्तीपुर: सरकार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को लेकर बड़े बड़े दावे करती है. लेकिन प्रदेश के कई इलाकों में स्थित स्कूल आज भी मूलभूत सुविधाओं की कमी से जूझ रहा है. जिले के एक गांव में स्थित प्राथमिक विद्यालय गरीबसतपुर अपने बदहाली पर आंसू बहा रहा है. इस विद्यालय में न बाउंड्री, न शौचायल और न ही पानी की व्यवस्था है.

जर्जर भवन

मामला जिले के शिवाजीनगर प्रखंड में स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय है. यहां लगभग 150 से 200 बच्चे पढ़ते हैं. आज भी यह विद्यालय टूटी फूटी बिल्डिंग में चल रही है. इससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है. यहां बच्चों के लिए न शौचायल और न ही पानी की व्यवस्था है.

कक्षा में पढ़ते बच्चे

‘यहां सांप और विषैले कीड़े निकल जाते हैं’
विद्यालय में पढ़ रहे छात्रों ने बताया कि हम यहां जमीन पर बैठ कर पढ़ते हैं. इस विद्यालय का भवन पूरी तरह से जर्जर हो चुका है. विद्यालय के हर तरफ गंदगी का अंबार लगा हुआ है. यहां हमेशा सांप और विषैले कीड़े आ जाते हैं. विद्यालय से बहुत दूर पानी पीने के लिए जाना पड़ता है !

छात्र और शिक्षकों का बयान

भवन को लेकर विभाग उदासीन है’

वहीं, विद्यालय प्रधानाध्यापक मंजू कुमारी का कहना है कि किसी प्रकार बच्चों को पढ़ाया जा रहा है. शिक्षा विभाग विद्यालय के भवन निर्माण को लेकर उदासीन बना हुआ है ! विभाग भवन बनाने के लिए पैसा मुहैया कराता तो विद्यालय का भवन बनवा दिया जाता।हमने कई बार प्रखन्ड शिक्षा पदाधिकारी शिवजीनगर को पत्र लिख कर भवन बनाने के लिये गुहार लगाई लेकिन किसी पदाधिकारी के द्वारा इस ओर धयान नही दिया जिसको लेकर हमलोगों को हमेसा डर सा बना रहता है कि हमारे बच्चों के साथ पढ़ाते बक्त छत गिरकर कोई बरा हादसा न हो जाये।

वहीं इस बिद्यालय को लेकर विद्यालय के सचिब निक्कू कुमारी एबं प्रखन्ड कांग्रेस कार्यकर्ता अजीत कुमार सिंह ने बताया कि हम लोग भी इस विद्यालय को लेकर बार बार इसकी शिकायत शिक्षा पदाधिकारी से करते आ रहे हैं लेकिन किसी पदाधिकारी के द्वारा इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया जाता है वहीं निक्कू कुमारी का बताना हुआ कि बारिश का समय चालू हो गया जिससे छत पर भी पानी लग कर चुने लगता है। वही अधिक बारिश होने पर पूरा स्कूल का प्लेग्राउंड पानी से भर जाता है जिसको लेकर बच्चे की पढ़ाई बंद हो जाती है !

अब देखना यह है कि प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी या जिला शिक्षा पदाधिकारी इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इस पर क्या कार्रवाई करते हैं या फिर एक बड़ी दुर्घटना होने तक का इंतजार कर रहे हैं !

About Nation24 News

Check Also

समस्तीपुर जिला के सीमावर्ती क्षेत्र के बिथान प्रखंड के मेहनती बेटा ने बीपीएससी की परीक्षा में 108 वां रैंक हासिल कर किया गांव का नाम रोशन ।

समस्तीपुर 6 जुलाई 2019 ! रिपोर्ट:- आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता ! आपको बताते चलें …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *