Home » Breaking News » समस्तीपुर जिले के खानपुर प्रखंड अंतर्गत राजमणि उच्च विद्यालय भोरे शाहपुर में अपनी सुरक्षा को लेकर शिक्षक छात्र एवं छात्राएं विद्यालय में धरना पर बैठे।

समस्तीपुर जिले के खानपुर प्रखंड अंतर्गत राजमणि उच्च विद्यालय भोरे शाहपुर में अपनी सुरक्षा को लेकर शिक्षक छात्र एवं छात्राएं विद्यालय में धरना पर बैठे।

समस्तीपुर 6 जुलाई 2019!

रिपोर्ट आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता !

सूचना के बाद भी कोई पदाधिकारी धरना स्थल पर नहीं पहुंचे।

जिससे शिक्षकों एवं छात्र छात्राओं में दहशत का माहौल बना रहा।

आपको बताते चलें कि भोरे शाहपुर पंचायत में प्लस टू राजमणि उच्च विद्यालय स्थापित है जहां क्लास 9 से लेकर 12वीं तक की बच्चे बच्चियाँ आते हैं जहाँ छात्र एवं छात्राओं को पठन-पाठन का कार्य कराया जाता है आपको बताते चलें कि अभी बच्चों का रजिस्ट्रेशन, फॉर्म भरने एवं एडमिशन को लेकर बच्चों की भीर काफी होती है जहां हजारों बच्चे विद्यालय पहुंचे थे। लेकिन दिनांक 04/07/2019 को एक छात्रा की साइकिल चोरी हो जाने के बाद विद्यालय में मानों पहाड़ सा टूट गया हो जिसको लेकर गांव के कुछ सरारती छात्रों ने आपस में ही छात्रों के साथ तु तु मै मै करने लगा और बिबाद बढ़ गया जिसको लेकर लोग मार पिट पर उतर गये।

इसी बिच कुछ ग्रामीणो ने भी छात्रों पर फट्टा बर्शाना चालू कर दिया।तब बिच बचाब करने शिक्षक आये तो उन्हे भी लोगों ने डाट फटकार कर भगा दिया।किसी तरह बीच बचाव करते हुए कुछ छात्रों को विद्यालय में हीँ सुरक्षा कि दृस्टी से रोक लिया ।झगरा शान्त होने के बाद छात्रों को घर जाने के लिये छोर दिया गया।

इसकी लिखित सूचना बिद्यालय के प्रधानाचार्य ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को देते हुये आज सभी शिक्षक अपने नियत समय पर विद्यालय पहुंचकर विद्यालय के क्लास रूम का ताला बिना खोले हीं ऑफ़िस के बरामदे पर चादर बिछाकर अपनी सुरक्षा को लेकर धरना पर बैठ गये। उन्के साथ साथ छात्र-छात्राएं भी अपनी सुरक्षा को लेकर धरना पर बैठ गया ।

जहाँ कुछ शरारती तत्व विद्यालय के इर्द-गिर्द घूमते नजर आया ।इसको लेकर विद्यालय के प्रधानाचार्य शत्रुघ्न महतो का बताना है कि आए दिन विद्यालय में कुछ शरारती तत्वों के द्वारा विद्यालय में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के साथ मारपीट की घटनाएं घटती रहती है जिससे मजबूर होकर हमने जिला शिक्षा पदाधिकारी को हमने सुरक्षा बैबस्था हेतु आबेदन दिया है और आज हमने अपने समस्या को लेकर बिद्यालय का कार्य बन्द कर विद्यालय परिषर में हीं धरना पर बैठे हैं।

जब तक सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासनिक कार्रवाई नहीं की जाती है तब तक हम सभी शिक्षक धरने पर बने रहेंगे। आपको बताते चलें कि कल एक बच्चे की साइकिल चोरी होने के बाद मारपीट पर लोग उतर गया जिससे वहां का माहौल अशांत हो गया था इसके बीच बचाव करने आए शिक्षकों पर भी लोगों ने प्रहार करना चाहा लेकिन जान बचाकर शिक्षक अपने ऑफिस की ओर निकल पड़े जिसकी लिखित सूचना प्रधानाध्यापक ने जिला शिक्षा पदाधिकारी से करते हुए अपनी सुरक्षा को लेकर विद्यालय के बरामदा पर ही धरना पर बैठ गये। विद्यार्थियों का बताना है कि हम लोगों का क्लास नाइंथ टेंथ और 11थ का नामांकन एवं फॉर्म भरा रहा था जिसका आज अंतिम दिन है और विद्यालय बंद होने से हम लोगों का भविष्य अंधकार मय हो सकता है इसकी सूचना सभी पदाधिकारी को देने के बाद भी कोई भी पदाधिकारी समस्या के समाधान के लिए विद्यालय परिसर में नहीं पहुंचे।

जहां विद्यार्थी के भविष्य को देखते हुए शिक्षकों ने कुछ ग्रामीणों के कहने पर जान जोखिम में डाल विद्यालय की विधि व्यवस्था को चालू कर दिया अब देखना यह है कि इतनी बड़ी घटनाएं होने के बाद भी पदाधिकारी उस विद्यालय पर क्यों नहीं पहुंचे अगर आए दिन पुनह कोई घटनाएं होती है तो इसका जिम्मेदार कौन होंगा। कौन शिक्षकों की रक्षा करेंगा।

कौन इस विद्यालय की देखभाल करेंगा और कौन करेगा यहां आए हुए छात्र-छात्राओं की सुरक्षा। आखिर सूचना देने के बाद भी कोई बरिये पदाधिकारी या प्रशासनिक पदाधिकारी विद्यालय पर क्यों नहीं पहुंचे यह बहुत बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है

About Nation24 News

Check Also

श्री सद्गुरु कबीर के मूर्ति का अनावरण के साथ साथ सत्संग समारोह का हुआ आयोजन।…

समस्तीपुर 7 जुलाई 2019! रिपोर्ट:- आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता! सतमलपुर कबीर मठ बलाही के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *