Home » Breaking News » समस्तीपुर से अपहृत छात्रा बरामद, 2 करोड़ की फिरौती के लिए दिया घटना को अंजाम !..

समस्तीपुर से अपहृत छात्रा बरामद, 2 करोड़ की फिरौती के लिए दिया घटना को अंजाम !..

समस्तीपुर 28 मई 2019

रिपोर्ट:- आशीष कुमार

एसपी हरप्रीत कौर ने प्रेस वार्ता कर घटना की दी जानकारी-

समस्तीपुर : समस्तीपुर मुफस्सिल थाना अंतर्गत लगूनिया रघुकंठ में विगत 21 मई 2019 को संध्या में एक छात्रा जो अपने पिताजी के साथ मोटरसाइकिल पर कोचिंग से वापस आ रही थी उसी समय रास्ते में 7 – 8 की संख्या में अपराधियों द्वारा हथियार के बल से कार एवं मोटरसाइकिल से छात्रा को अपहरण कर लिया गया था ।
जिस संबंध में मुफस्सिल थाना कांड संख्या 241/19 दिनांक 22 मई को दर्ज किया गया।
जिस कांड को लेकर अपहृता की बरामदगी को समस्तीपुर पुलिस प्रशासन अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर प्रीतीश कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया, जिसमें पुलिस निरीक्षक सह थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य, पुलिस निरीक्षक सह थाना अध्यक्ष नगर सीताराम प्रसाद, पुलिस निरीक्षक डी०आई०यू० संजय कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक संजय कुमार, अखिलेश डी०आई०यू०, लगातार छापेमारी कर रहे थे ।


इस घटना के पश्चात अपहृत के पिता से दो करोड़ की रंगदारी अपहृता को छोड़ने के बदले मांग की गई थी। फिरौती मांगने वाले अपने को “ब्लैक हैट हैकर” बताया था। टीम के द्वारा तकनीकी एवं वैज्ञानिक अनुसंधान तथा स्थानीय गुप्तचर के सहयोग से संदिग्धों के बारे में पूरी सूचना प्राप्त हुआ।

जिसके विश्लेषण एवं सर्विलांस के आधार पर कांड के मुख्य साजिशकर्ता गुड्डू कुमार को पकड़ा गया, जिन्होंने पूछताछ में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए अन्य सहयोगी सुमन राजवंश, विजय कुमार, सुजीत कुमार, अजीत कुमार राय, सोनू, सुनील सहनी का नाम बताया। अन्य संलित एवं सहयोगी अपराधी सुमन कुमार राजवंश, नीरज सहनी की मां को खानपुर थाना से गिरफ्तार किया गया। सुमन के पास से “रैनसम” करने वाला सीम एवं मोबाइल सेट बरामद हुआ।

“ब्लैक हैट हैकर” से पूछताछ की गई तो उसके द्वारा बताया गया कि वह बी.टेक. किया हुआ है तथा उसका नाम ‘सुमन’ है । वह अंग्रेजी एवं अन्य देशी भाषाओं का जानकार है जिसके द्वारा अपने अंतरराष्ट्रीय हैकर बता कर फिरौती हेतु कॉल की गई थी। हैकर द्वारा फिरौती मांगने के संबंध में इंडियन पुलिस को अपने को पकड़ने की चुनौती दी गई थी। सीम एवं सेट के बारे में सुमन के द्वारा बताया गया कि मैं और मेरा भाई 22 अप्रैल की रात्रि को मोबाइल छीना था, लूटे गए मोबाइल जिससे फिरौती की मांग की गई थी, वह सुमन की मां के पास से बरामद हुआ। गुड्डू द्वारा बताए ठिकाने बख्तियारपुर से अपहृता को बरामद किया गया। इसके पूर्व अपहर्ताओं को उजियारपुर थाना क्षेत्र के पचपैका गांव में कई स्थानों पर अपराधियों के घर में रखा गया था।

बख्तियारपुर से अपहृता को निगरानी में रख रहे अपराधी विजय एवं सुजीत को भी गिरफ्तार किया गया। विजय एवं सुजीत और सुमन कुमार के बयान के आधार पर घटना में प्रयुक्त वाहन एवं तीन हथियार एवं तीन कारतूस बरामद किया गया। अपहृता को 21 अप्रैल की रात्रि में पचपैका गांव के सुजीत के घर सुजीत के मां की निगरानी में रखा गया था ।

सुजीत की मां कालमुखी देवी को गिरफ्तार किया गया है। इस कांड में कुल 8 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पूरे कांड में अपहृत के गांव भीरी टोल तथा कोरबद्धा के दो युवकों को पकड़ा गया है जिसके द्वारा लाइनर एवं मुख्य भूमिका निभाई गई थी ।

********************************************

About Nation24 News

Check Also

विद्यालय प्रधानाचार्या ने बच्चों की सुरक्षा हेतु प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से लगाया गुहार ।

समस्तीपुर 9 जुलाई 2019 ! रिपोर्ट आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता ! बद से बदतर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *