Home » Breaking News » 16 घंटे बाद तक लोगों को नही मिली बिजली। सरकारी बिजली, मिस्त्री द्वारा प्रति पोल ₹5000 की मांग की जा रही है ! पैसे नहीं देने की वजह से लोगों का बिजली आपूर्ति रहा बाधित।…

16 घंटे बाद तक लोगों को नही मिली बिजली। सरकारी बिजली, मिस्त्री द्वारा प्रति पोल ₹5000 की मांग की जा रही है ! पैसे नहीं देने की वजह से लोगों का बिजली आपूर्ति रहा बाधित।…

समस्तीपुर 8 जुलाई 2019 !

रिपोर्ट:- आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता !

समस्तीपुर जिले के सतमलपूर पंचायत अंतर्गत टोलापर मिथिला दूध उत्पादक समिति के पास अज्ञात बाहन के टक्कर से बिजली का दो पोल पुर्न रुप से छतिगृस्त हो गया। आ पको बताते चलें कि सतमलपुर टोला पर मिथिला दूध उत्पादन समिति संघ के निकट रात्री के तीन बजे अज्ञात वाहन की चपेट में आने से दो बिजली का पॉल पूर्ण रूप से ध्वस्त हो गया।

तत्काल इसकी सूचना ग्रामीणों के द्वारा फोन पर विभागीय पदाधिकारी जूनियर इन्जीनियर, एसडीओ, एवं विभाग के बिजली मिस्त्री मुन्ना शर्मा को दिया गया। जिसके बाद विभागीय पदाधिकारी के द्वारा स्थानीय सरकारी बिजली मिस्त्री मुन्ना शर्मा को घटना से अवगत कराया गया ।

घटनास्थल पर मुन्ना शर्मा के पहुंचने के बाद 11000 तार में लटके हुए इंसुलेटर को खोल कर हटा दिया,और लाईन बन्द कर दिया गया।जब 16 घंटे बाद भी लाईन नही चालू किया गया तो ग्रामीणो ने पुनह स्थानिय बिजली मिस्त्री मुन्ना शर्मा को पोल गारकर लाईन चालू कर्बाने को कहा जिसके बाद मिस्त्री द्वारा पोल प्रति पोल 5000 की मांग की जाने लगी नहीं देने पर वहां का काम बाधित कर दिया गया।

पुनह बिजली उपभोक्ताओं के द्वारा लाइन चालू कराने की मांग बार-बार की जाने लगी लेकिन पदाधिकारी के कहने के बावजूद भी बिजली मिस्त्री मुन्ना शर्मा के द्वारा अनसुनी किया जाने लगा।

तब जाकर स्थानीय उपभोक्ताओं ने मुन्ना शर्मा के कहे जाने पर ग्रामीणों के द्वारा गारी भारा एकजुट कर दो पोल की व्यवस्था की गई लेकिन बिजली मिस्त्री मुन्ना शर्मा मौके पर नहीं पहुंचे किसी तरह ग्रामीणों ने खुद दो पोल गाड़ने का काम किया जिसके बाद भी लाइन नहीं चालू कराया गया है !

आखिर कब तक लोग बिजली विभाग के लापरवाही से परेशान होते रहेंगे आपको यह भी बता दूं की 11000 का तार मेन रोड के बीचो बीच काफी नीची लटकी हुई है जहां से बड़ी ट्रकों को पास कराए जाने पर तार पूर्ण रूप से ट्रक पर फंस जाता है जिसे ट्रक कंडक्टर के द्वारा किसी बल्ले की सहारा से ऊपर कर गाड़ी पास कराया जाता है !

अगर समय रहते बिजली विभाग के कर्मचारी ऐसे ऐसे घटिया सोच रखने वाले मिस्त्री पर कानूनी कार्रवाई नहीं करती है तो आने वाले दिनों में कहीं ना कहीं प्रतिदिन बिजली से लोगों कि मौत होती रहेगी और सरकार अनुदान बांटते नजर आएंगे।

About Nation24 News

Check Also

समस्तीपुर जिला के सीमावर्ती क्षेत्र के बिथान प्रखंड के मेहनती बेटा ने बीपीएससी की परीक्षा में 108 वां रैंक हासिल कर किया गांव का नाम रोशन ।

समस्तीपुर 6 जुलाई 2019 ! रिपोर्ट:- आशीष कुमार/धर्म विजय प्रसाद गुप्ता ! आपको बताते चलें …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *